फेसबुक में योगी को खत लिखकर महिला ने दे दी अपनी जान

मित्रों जैसा की आप सभी इस बात से अवगत ही होगें कि हमारा जीवन बहुमूल्य होता है इसका कारण यह है कि हमको कई युनियों से गुजरने के बाद हजारों वर्षो में कही एक बार इंसान के रूप में जन्म होता है ऐसे में लोग अपनी जिन्दगी के साथ खिलवाड़ करते है जो बहुत ही गलत है। पहले के लोग तो ऐसे नही थे पर आज के समय में थोड़ी सी अगर कहासुनी हुई तो अधिकतर लोग आत्म हत्या करने का प्रयास करने लगते है, जो कि घोर आपराध है जिसे हत्या करने से भी बड़ा अपराध माना जाता है। आत्महत्या करके अपनी जान देने वाले लोग कभी-भी अपने घरवालों के संबंध में कुछ नही सोचते है और कुछ ऐसा कर बैठते है जो कि परिवार के लिये असहनीय है। आज हम एक ऐसी ही महिला के संबंध में बात करने जा रहे है, जिसने फेसबुक में योगी को खत लिखकर अपनी जान दे दी है। आइए जाने पूरी सच्चाई।

आपको बता दें कि यह घटना हरदोई जिले के माधोगंज थाना क्षेत्र की है, जहां एक महिला ने फेसबुक पर पोस्ट लिखकर मुख्यमंत्री को संबोधित करते हुये एक मार्मिक पोस्ट लिखने के साथ उसने कई तस्वीरें भी डाली, उसने मुख्य अभियुक्त लवी त्रिवेदी, एफआईआर की कॉपी और लवी की पिटाई के बाद खून से लथपथ हुए खुद के कपड़ों की तस्वीरें उसके फेसबुक पोस्ट के साथ अटैच करने के बाद देर रात कमरे में खुद को बंद कर फांसी लगाकर जान दे दी। महिला की पहचान रोली गुप्ता के रूप में हुई है, रोली ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा ‘मैं रोली गुप्ता उर्फ प्राची पत्नी मनोज कुमार गुप्ता अपने पूरे होशो हवास में यह बयान करती हूं, कि 4/9/2021 दिन शनिवार 7:00 बजे शाम को लवी त्रिवेदी अपने परिवार के साथ आके मेरे और नाबालिग लड़के के साथ बाप बेटे ने जबरदस्ती करने की कोशिश की, जब मैंने विरोध किया तो पूरे परिवार ने मिलकर हमे लात घूसों से बहुत मारा है।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि इस घटना के संबंध में रोली गुप्ता ने आगे बताया कि “ इस दौरान मेरे गले से सोने का लाकेट, मोबाइल एंड्राइड और 90 हजार नगदी अपने साथ ले गए, साथ ही मेरे कपड़े फाड़ के दुपट्टा भी साथ ले गए और बच्चों को रूम में बंद कर दिया था लोगों ने, मुझे और मेरे छोटे बेटे को बहुत मारा और बोले मेरे खिलाफ कुछ भी करवाया तो पूरे परिवार को गोली से मार देंगे, मैं बेहोश हो गई, जब मेरे पति बाहर से आए तो मुझे लहूलुहान देखकर बोले क्या हुआ था, मैंने सब बताया, पुलिस थाने ले गए, वहां मेरी पहले से भी एफआईआर दर्ज थी, पर उसपर कोई कार्यवाही नहीं की गई, क्योंकि मेरे साथ पहले भी ऐसा सब कुछ घटित हो चुका है, उसकी f,i,r, लिखवाई थी मैंने, ऑनलाइन भी कराई थी, लेकिन मतलब कुछ नहीं निकला, रेप करने की कोशिश, अटाइम टू मर्डर, अगर मेरे परिवार को कुछ हुआ या फिर मुझे तो इसके जिम्मेदारी सिर्फ और सिर्फ सरकार की होगी, प्लीज हेल्प मी सर, मेरे साथ न्याय किया जाए, मेरा जो भी नुकसान हुआ है उसकी भरपाई करी जाए, मेरे परिवार को इन लोगों से खतरा है। इस संबंध में आप लोगों की क्या प्रतिक्रियायें है?

Leave a comment

Your email address will not be published.