इन कलाकारों ने निभाए थे अमिताभ बच्चन के बचपन का रोल ,अब कहाँ है और क्या कर रहे है

फ़िल्मी जगत के शहंशाह अमिताभ बच्चन में अभी भी बड़े -बड़े अभिनेताओ को टक्कर देने की हिम्मत है . फिल्मो के साथ -साथ एडवरटाइजमेंट की दुनिया पर भी अमिताभ छाये रहते है. अपने फ़िल्मी करियर ने अमिताभ ने बहुत सी फिल्मो में बहुत से कलाकारों के साथ अभिनय किया है . लेकिन कुछ बाल कलाकार ऐसे भी है जिन्होंने फिल्मो में अमिताभ के बचपन का किरदार निभाया है.और उन किरदारों को निभाने के बाद से वो बाल कलाकार छोटी सी उम्र में ही फेमस हो गये. चलिए जानते है कौन से है वो बाल कलाकार.

मास्टर मयूर

यंग अमिताभ के तौर पर जो चेहरा सबसे पहले ज़हन में आता है, वो है मास्टर मयूर का। मास्टर मयूर का पूरा नाम मयूर राज वर्मा है। आज मयूर राज वर्मा फिल्मी दुनिया से दूर अमेरिका में अपना रेस्टोरेंट बिजनेस चला रहे हैं लेकिन एक वक्त था जब मास्टर मयूर को इंडस्ट्री का यंग अमिताभ कहा जाता था। साल 1978 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘मुकद्दर का सिकंदर’ में मास्टर मयूर पहली बार सिकंदर(अमिताभ) बचपन के किरदार में दिखे थे। जिसके बाद वह अमिताभ की कई फिल्मों में नजर आए।

मास्टर अलंकार जोशी

फिल्म ‘दीवार’ का वो छोटा अमिताभ याद है आपको? उस चाइल्ड आर्टिस्ट का नाम था मास्टर अलंकार जोशी। मास्टर अलंकार को दीवार’ में विजय(अमिताभ)के बचपन के रोल के लिए साइन किया गया था। जिसके बाद मास्टर अलंकार इंडस्ट्री के फेमस चाइल्ड आर्टिस्ट बन गए थे। हांलाकि आगे चलकर फिल्मों में अलंकार जोशी को खास सफलता नहीं मिली तो वह आगे की पढ़ाई के लिए अमेरिका चले गए। अंलकार जोशी का अब अपना आईटी बिजनेस है और वह दुनिया के कई देशों में अपना बिजनेस मैनेज कर रहे हैं।

मास्टर राजू

70 और 80 के दशक में मास्टर राजू भी इंडस्ट्री के पॉपुलर बाल कलाकार हुआ करते थे। मास्टर राजू का पूरा नाम राजू श्रेष्ठा है। यूं तो मास्टर राजू ने उस दौर के लगभग सभी कलाकारों के साथ काम किया था। लेकिन फिल्म ‘त्रिशूल’ और ‘नास्तिक’ में मास्टर राजू यंग अमिताभ के रोल में दिखे थे। राजू श्रेष्ठा अभी भी शोबिज़ में एक्टिव हैं।

मास्टर रवि

मास्टर रवि ने 1976 में फिल्म ‘फकीरा‘ से डेब्यू किया था, लेकिन उन्हें पहचान मिली थी 1977 में आई फिल्म ‘अमर अकबर एंथोनी‘ से। इस फिल्म ने मास्टर रवि का करियर रातों रात चमका दिया था। इस फिल्म के बाद मास्टर रवि ने ‘देश प्रेमी‘, ‘शक्ति‘ और ‘कुली‘ जैसी फिल्मों में अमिताभ के बचपन का किरदार निभाया था। मास्टर रवि यानि रवि वलेचा आज हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री में खूब नाम कमा रहे हैं। वो इंडिया के टॉप प्राइवेट सेक्टर बैंकों को अपनी हॉस्पिटैलिटी की सेवाएं दे रहे हैं।

मास्टर टीटो

फिल्मों में यंग अमिताभ का रोल प्ले कर मशहूर चाइल्ड आर्टिस्ट में अगला नाम है मास्टर टीटो का। मास्टर टीटो ने यूं तो कई फिल्मों में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम किया था। लेकिन उन्हें सबसे ज्यादा पहचान मिली थी 1977 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘परवरिश’ में यंग अमित का रोल प्ले करके। इसके बाद टीटो ने 1981 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘नसीब’ और ‘याराना’ में भी अमिताभ के बचपन का रोल प्ले किया था।

Leave a comment

Your email address will not be published.