कोरो’ना के बाद अब आया D2 वायरस,लगातार लोगो की जा रही है जा”न

मित्रों इन दिनों दुनिया एक भयंकर महामारी का सामना कर रही है, जिसमें अनगिनत जाने जा चुकी है। हालाकि मौजूदा समय में इस महामारी पर कुछ हद तक अंकुश लग पाया है, पर ये महामारी पूरी तरह से अभी भी खत्म नही हुई है। वहीं एक और महामारी ने आते ही अपना आक्रामंक रूप दिखाना शुरू कर दिया है। दरअसल मौसम बदल रहा है, कई शहरों में अभी भी बारिश हो रही है, इस बदलते मौसम से D2 का खतरा भी बढ़ गया है। कई राज्यों में तेजी से D2 के मरीज सामने आ रहे हैं और कई मरीजों की मौत भी हो गई है, सरकार की ओर से कई आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में डेंगू बुखार ने अपना असर दिखाना शुरु कर दिया है। यूपी में पिछले 15 दिनों में डेंगू बुखार की वजह से काफी मौतें हो रही है। इनमें भी प्रमुख रुप से फिरोजाबाद, आगरा और मथुरा में इसका असर ज्यादा दिख रहा है। वहीं ICMR के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने बताया कि डेंगू बुखार से मरने वाले बच्चों और वयस्कों के टेस्ट से पता चला है कि उनमें डेंगू का Den 2 वैरिएंट पाया गया है। उन्होंने चेतावनी दी कि डेंगू का D2 स्ट्रेन जानलेवा हैमरेज की कारण बन सकता है। इसलिए उन्होंने सलाह दी कि जैसे ही किसी को बुखार हो, वह तुरंत डॉक्टर के पास जाकर जांच कराए।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि डॉक्टरों के मुताबिक डेंगू के D2 वैरिएंट के शुरुआती लक्षणों में मरीज को तेज बुखार होना, शरीर में प्लेटलेट्स में गिरावट आना, रक्तस्रावी बुखार, अंग विफलता और डेंगू शॉक सिंड्रोम शामिल है। विशेषज्ञों का दावा है कि वायरल सीरोटाइप का 99 प्रतिशत मामलों में इलाज संभव है, बशर्ते मरीज की उचित देखभाल की जाए। नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने भी बताया कि D2 का इलाज संभव है। इसके लिए सबसे जरुरी है कि समय रहते अस्पताल पहुंचा जाए।

अगर सामान्य बुखार भी हो रहा है, तो बिना देरी के अस्पताल का रुख करें। इन दिनों उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार में डेंगू और वायरल बुखार का असर देखा जा रहा है। चिंता की बात यह है कि इस साल मरीजों में बच्चों की तादाद कुछ ज्यादा है। हाल ही में दिल्ली में भी डेंगू ने काफी कहर बरपाया था। इस जानकारी के संबंध में आप लोगों की क्या प्रतिक्रियायें है? मित्रों अधिक रोचक बाते व लेटेस्‍ट न्‍यूज के लिये आप हमारे पेज से जुड़े और अपने दोस्तो को भी इस पेज से जुड़ने के लिये भी प्रेरित करें।

Leave a comment

Your email address will not be published.