घर से भागकर साधारण परिवार का रमेश यादव बन गया रेमो डिसूजा

मित्रो इस दुनिया में कब किसकी किस्‍मत चमक जाये, इसका कोई पता नही है। वैसे तो बॉलीवुड इंडस्ट्री में कईओ ने अपनी किस्मत अजमाई है पर उनमें कामयाबी कुछ ही लोगों को मिल पाती है। आज हम एक ऐसे ही शख्स के संबंध में बात करने जा रहे है जो एक साधारण परिवार से है,जिन्होंने घर से भागकर अपनी एक नई पहचान बनायी। आपको बता दें कि आज हम जिस शख्स की बात कर रहे है वो और कोई नही बल्कि साधारण परिवार के रहने वाले रमेश यादव है। दरअसल बॉलीवुड इंडस्ट्री में आज रेमो डिसूजा की गिनती बेहतरीन कोरियोग्राफर्स में से एक के रूप में होती है, रेमो लंबा सफ़र तय करके आज इस मुकाम तक पहुंचें हैं, कभी पाई-पाई को मोहताज रहे रेमो आज करोड़ों रुपये की संपत्ति के मालिक हैं, और यह सब उनकी मेहनत के बदौलत है रेमो डिसूजा बहुत मेहनती हैं।

आपको बता दें कि अप्रैल 1972 को कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में जन्में रेमो डिसूजा का असली नाम रमेश यादव है, मुंबई आने के बाद वे रमेश से रेमो बन गए थे, उम्र के 49 बसंत पूरे कर चुके रेमो ने अपने बेहतरीन डांस से लाखों-करोड़ों दिलों को अपना मुरीद बनाया है, रेमो जब गुजरात के जामनगर में पढ़ाई कर रहे थे,  इस दौरान पढ़ाई बीच में ही छोड़कर वे घर से भागकर मुंबई अपने सपने को साकार करने के लिए आ गए थे। रेमो डिसूजा को बचपन से डांस करने का शौक था और उनका सपना भी था जो कि मुंबई आकर पूरा हुआ मुंबई में उन्हें अपना सपना साकार करने का मौका मिला धीरे-धीरे रेमो डिसूजा ने फिल्मी स्टारों को डांस सिखाना शुरू किया जैसे जैसे समय बीतता गया वह बड़े कोरोग्राफी बन गए।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि रेमो डिसूजा के पिता एयर फोर्स में कुक की नौकरी करते थे और बस घर चलाने लायक ही उनकी कमाई हो पाती थी, ऐसे में रेमो ने भी परिवार की मदद के लिए जिम्मेदारियां उठानी शुरू कर दी थी, इस दौरान उन्होंने बेकरी, राशन की दुकान और साइकिल रिपेयर की दुकान तक पर काम किया, लेकिन दूसरी ओर डांस की ललक और लगन उनके भीतर मौजूद थी और डांस ही उन्हें मुंबई ले आया था। इस जानकारी के संबंध में आप लोगों की क्या प्रतिक्रियायें है? मित्रों अधिक रोचक बाते व लेटेस्‍ट न्‍यूज के लिये आप हमारे पेज से जुड़े और अपने दोस्तो को भी इस पेज से जुड़ने के लिये भी प्रेरित करें।

Leave a comment

Your email address will not be published.