तुम बहुत खूबसूरत हो एग्जाम के बाद मिलोगी” स्टूडेंट के साथ टीचर का ये चैट हो रहा वायरल

माता -पिता के बाद गुरु ही होता है जो अपने शिष्य का मार्गदर्शन करता है .उन्हें सही और गलत में फर्क करना सिखाता है .गुरु द्वारा ही शिष्य को सम्पूर्ण ज्ञान की प्राप्ति होती है जिससे शिष्य का भविष्य उज्ज्वल बनता है. और जब कोई शिष्य अपने जीवन में सफलता हासिल करता है तो अपने गुरु को जीवन भर याद करता है . लेकिन आज के इस लेख में हम आपको डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय के एक ऐसे गुरु के बारे में बताने वाले है .जो ऑनलाइन परीक्षा के दौरान एक छात्रा के साथ फ्लर्ट करने लगा . गुरु जी ने छात्रा की तारीफ करते हुए लिखा -तुम बेहद खुबसुरत हो ,परीक्षा के बाद मुझसे बात करोगी . इसके बाद ये खबर सोशल मिडिया पर तेजी से वायरल होगयी .

आप को बता दें, मामला गुरुवार का है. पीड़ित छात्रा की ओर से घटना सामने आने के बाद, सोशल मीडिया पर उसने ट्वीट किया और इसकी शिकायत दर्ज कराई. दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर मामला आने के बाद छात्र भी सक्रिय हो गए. एकेटीयू की तरफ से दो शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की गई है.

दरअसल, एकेटीयू की ऑनलाइन परीक्षा के दौरान एमआईईटी मेरठ के शिक्षक संदीप सिंह को प्रॉक्टरिंग के लिए लगाया गया था. आरोप है कि इस दौरान एक शिक्षक ने एक छात्रा के साथ ऑनलाइन चैट शुरू कर दी. चैट में लिखा है कि तुम बहुत खूबसूरत हो, परीक्षा के बाद मुझसे मिलोगी ? मामला संज्ञान में आने के बाद विश्वविद्यालय के अधिकारियों के होश उड़ गए.

दूसरा मामला आजमगढ़ के राहुल सांकृत्यायन कॉलेज ऑफ फार्मेसी का है. यहां के शिक्षक अजीमुद्दीन पर एक छात्रा के साथ उत्पीड़न का आरोप लगा है. एकेटीयू के कुलपति प्रोफेसर विनीत कंसल का कहना है कि विश्वविद्यालय प्रशासन इस तरह की हरकत को नजरअंदाज नहीं कर सकता. इसको ध्यान में रखते हुए दोनों शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है. दोनों को नौकरी से निकाला जाना है.

यह पहला मामला नहीं है, जब ऑनलाइन क्लासेज या परीक्षा के दौरान इस तरह की गड़बड़ियों की शिकायतें सामने आई हो. बीते दिनों पॉलिटेक्निक की ऑनलाइन परीक्षाओं के दौरान क्वेश्चन पेपर सोशल मीडिया पर वायरल होने की शिकायतें सामने आई. पेपर शुरू होने के आधे घंटे के भीतर प्रश्न पत्र के स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो गए थे. हालांकि, जिम्मेदारों के स्थल पर कोई ठोस कार्रवाई करने के बजाए इस पूरे मामले को लगातार दबाने की कोशिश की जाती रही.

लखनऊ विश्वविद्यालय के प्राचीन भारतीय इतिहास विभाग की एक कक्षा में छात्र के द्वारा अभद्रता किए जाने का मामला भी सामने आया था. आरोपी छात्र के द्वारा व्हाट्सएप पर अभद्र टिप्पणी की गई. यह सब कुछ क्लास के ऑफिशियल व्हाट्सएप अकाउंट में पढ़ाई के दौरान किया गया था. जिसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई.

Leave a comment

Your email address will not be published.