महाराष्ट्र में चला BJP का जादू, अकेले दम पर जीती 22 सीट, फेल हो गए शिवसेना और कांग्रेस

भारतीय जनता पार्टी का जादू हर तरफ बढ़ता नज़र आ रहा है ! पीछे कल यानि 6 अक्टूबर को महाराष्ट्र में हुए उपचुनाव का नतीजा सामने आया है जिसमें बीजेपी में जीत का परचम लहराया है ! महाराष्ट के लोगो ने बीजेपी का खुल कर सपोर्ट किया है और विशवास दिलाया है कि महारष्ट के लोग अब बीजेपी की सरकार ही चाहते है क्यूंकि उन्हें बीजेपी के फैंसलो पर भरोसा है !

उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) लोगों के दिलों पर राज करने में सफल रही है। जैसा कि आपको पता है कि भारतीय जनता पार्टी हाल ही में गुजरात (Gujrat) के गांधीनगर (Gandhinagar) में हुए चुनाव में कुल 44 में से 41 सीट अपने नाम करने में सफल रहा है। इसी तरह महाराष्ट्र के मुंबई (Mumbai) में भी हुए उपचुनाव में भाजपा को पहले से ज्यादा सीटें मिली है। इस खबर के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि मुंबई में हुए उपचुनाव में किस पार्टी को कितनी सीटें मिली है? आइए आपको पूरी खबर विस्तार से बताते हैं।

उपचुनाव में भाजपा को मिली 22 सीटें

आपको बता दें कि मुंबई के 6 जिला परिषद में चुनाव हुए थे। अगर इन जिला परिषदों की बात करें तो इसमें धुले, नंदुरबार, अकोला, वाशिम, नागपुर, पालघर शामिल है। इन छह जिलों में कुल 84 सीटों के लिए चुनाव हुआ था। 84 सीटों में से 37 पंचायत समिति की 148 सीटों पर बीते मंगलवार को मतदान हुआ था। बुधवार को मतगणना भी हुई। इसमें भारतीय जनता पार्टी को 22 सीटें मिली है। वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस भी शिवसेना पार्टी को पीछे करते हुए एक अच्छी पारी के साथ जनता के बीच सफल होता दिख रहा है।

कांग्रेस पार्टी को 144 में से 36 सीटें मिली

आपको बता दें कि कांग्रेस पार्टी ने मुंबई में हुए 6 जिला परिषद के लिए अपने कुल 144 प्रत्या शियों को उतारे थे। कुल 144 प्रत्याशियों में से कांग्रेस पार्टी के खाते में 36 सीटें गई। वहीं दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी को कुल 22 सीटें मिली है। उपचुनाव में हुए सीटों के बारे में जानकारी देते हुए राज्य निर्वाचन आयोग ने कहा कि अब लगभग सभी 6 सीटों पर हुए चुनाव के परिणाम की जानकारी दे दी गई है।

एमवीओ को मिले कुल 46 सीटें

आपको बता दें कि कुल 148 सीटों पर हुए उपचुनाव में एक जिला परिषद सीट और तीन पंचायत समिति वार्ड में उम्मीदवारों को निर्वि रोध चुना गया है। वहीं दूसरी तरफ अगर शिवसेना के साथ-साथ अन्य पार्टियों की बात करें तो इसमें कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और शिवसेना को कुल 19, 15 और 12 सीटें मिली हैं। एमवीए कुल 46 सीटों के साथ आगे है। चुनाव परिणाम को देखते हुए ऐसा लग रहा है। जैसे मुंबई कि जनता धीरे धीरे अलग अलग पार्टियों कि तरफ रुख कर रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published.