अगर आप भी ढूंड रहे है अपना जीवन साथी तो चुनते समय ध्यान रखें ये खास बातें…

मित्रों आज हम बात करने जा रहे है स्त्री-पुरूष को परखने की जो कि इतना आसान भी नही है किसी को परखना। दराअसल दोस्तो आज के समय में आपको तो पता ही है कि कितने प्रकार से व्यक्तियों को ढगा जा रहा है, इस समय के दौर में कई तरह की समस्या हम लोगों को मिलती है जैसे कि अगर मेरी शादी जिससे हुई हो उसके विचार हमसे न मिलना और किसी से दोस्ती की तो उससे भी दोखा मिलता है इन्ही समस्याओं को को ध्यान में रखते हुये आज हम यह जानकारी आपको बताने जा रहे है। जिन बातों का जिक्र हम करने जा रहे है वह चाणक्य नीती से ली गई है। जो कुछ इस तरह से है…………

चरित्र या स्वभाव

इंसान अपने चरित्र से जाना-पहचाना जाता है।जो लोग अपने चरित्र से बेदाग़ है और दूसरों के प्रति गलत भावना नहीं रखते है वे दिल के साफ़ होते है।ऐसे लोगों का ह्रदय कोमल होता है और सच्चाई इनकी आदत बन जाती है।

त्याग की भावना

किसी भी व्यक्ति को परखे के लिए उसकी त्याग छमता देखनी चाहिए की वो दूसरी की खुशी या आपकी ख़ुशी के लिए कुछ त्याग कर सकता या नहीं।

गुण और अवगुण

लोगों का असली गुण जल्दी ज्ञात नहीं होता इसलिए किसी भी नए व्यक्ति को परखने के लिए ज्यादा समय ले और जो वो आपके सामने है ,जिस तरह से पेश आता है, जिस तरीके से बात करता है। इन सब को पहले गौर करे और समय बीतने के साथ आपको सच्चाई का मालूम पर जाएगा। आपको ये जान जाओगे की पिछले दिनों से जिस व्यक्ति से आपने बातें की वो असली था या बनावटी। दोस्तों गुण और अवगुण इंसान के ऐसे दो पेहलू है जो उसकी ज़िन्दगी बना देता है या बिगाड़ देता है।

उस व्यक्ति का कर्म

हम सब को अपने कर्मो का फल मिलता है और आए दिन हमारे साथ जो भी अच्छा ख़राब होता है सब हमारे कर्मों की वजह से होता है। किसी को परखने के लिए आपको उससे बातें करनी चाहिए और उसकी अतीत के बारे में जानने का प्रयास करना चाहिए की उसने कैसे कैसे कर्म कर रखे है।और जब आपके साथ रहता है तो कैसे कर्म करता है।

उपरोक्त तथ्यों से आप किसी को भी परख पाएगें और उक्त परेशानियों से मुक्ति भी मिल जाएगी, और आप धोखा खाने से बच जाएगें।

Leave a comment

Your email address will not be published.