मुख्यमंत्री आवास के सामने मैनपुरी के युवक ने पीया जहर, सपा नेता पर प्रताड़ित करने का आरोप

 दोस्तों चुनाव के समय नेता लोग कैसे आम जनता के सामने हाथ जोड़े आते है .और उनसे बहुत से झूठे वादे कर वोट मांगते है. लेकिन जैसे वो चुनाव जीत जाते है आम जनता को भूल जाते है .अपने वादे पुरे करने तो दूर की बात है . ये लोग आम जनता के छोटे -छोटे काम भी नही करवाते .एक छोटे काम के लिए भी गरीब आदमी को इधर -उधर भटकना पड़ता . जब गरीब इंसान की कोई नही सुनता तो अपनी समस्याओ से परेशान मजबूरन उसे आत्महत्या जैसा कदम उठाना पड़ता है .

सीएम आवास के बाहर मंगलवार दोपहर मैनपुरी के किसुनी निवासी विमलेश ने जहरीला पदार्थ पीकर आत्महत्या का प्रयास किया। हालत बिगड़ती देख गौतमपल्ली थाने की पुलिस विमलेश को सिविल लेकर पहुंची। जहां से हालत नाजुक देख उसे ट्रामा रेफर कर दिया गया। पीड़ित ने मैनपुरी पुलिस और प्रशासन पर मामले में कार्रवाई न करने का आरोप लगाया है।

सीएम आवास के बाहर मंगलवार दोपहर एक युवक की एकाएक हालत बिगड़ गई। यह देख पुलिस कर्मी उसे सिविल लेकर पहुंचे। जहां प्राथमिक उपचार किया गया। होश में आने पर युवक ने बताया कि वह मैनपुरी किसुनी का रहने वाला है। क्षेत्र में रहने वाले सपा नेता लालू यादव ने जमीन पर कब्जा कर लिया है। फर्जी मुकदमे में फंस दिया। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी सुनवाई नहीं कर रहे हैं। अपनी समस्या लेकर जिलाधिकारी और कप्तान से भी मिला पर कोई मदद नहीं मिली।

कई बार लखनऊ में उच्चाधिकारियों और सीएम से मिलने आया मुलाकात नहीं हो सकी। सपा नेता की प्रताड़ना से त्रस्त होकर आत्महत्या का प्रयास किया। एडीसीपी मध्य राजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि मैनपुरी पुलिस को सूचना दे दी गई है। विमलेश का लालू यादव से जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। उसकी हालत अब ठीक है। मैनपुरी पुलिस और विमलेश के घर वाले भी आ रहे हैं।

कमर में खोंस रखी थी जहरीले पदार्थ की शीशी:

 एडीसीपी ने बताया कि सीएम आवास में विलमेश प्रार्थनापत्र देकर निकला था। इसके बाद लामार्ट कालेज की बाउंड्रीवाल के पास उसने कमर में खुसी शीशी निकाली। उसे पीने लगा यह देख एक महिला सिपाही दौड़ी उसने हाथ मारकर शीशी गिरा दी। शीशी में कोई रैपर नहीं लगा था। आधी शीशी ही विमलेश पी पाया था। उसे आनन-फानन अस्पताल ले जाया गया। अब हालत सामान्य है।

Leave a comment

Your email address will not be published.