अलमारियों से बरामत हुए 142 करोड़ रुपये, इनकम टैक्स ऑफिसर की आँखे फटी की फटी रह गयी

दोस्तों हम सभी को पता है हम कुछ लिमिट तक ही अपने पास पैसा रख सकते है .यदि लिमिट से ज्यादा हो तो उसके लिए टैक्स पे करना पड़ता है .लेकिन यदि आयकर विभाग को खबर मिल जाये किसी के पास अचानक से बहुत ज्यादा पैसा आ गया है तो आयकर विभाग के अधिकारी रेड डालकर उस पैसे के मामले के तह तक जाते है .लेकिन हालही में आयकर विभाग ने एक रेड के दौरान इतना पैसा बरामद किया है कि एक साथ इतना पैसा देख उनकी आंखे भी फटी की फटी रह गयी .

सुनने में आया है की आयकर विभाग ने हाल हे में हेटेरो फार्मास्यूटिकल ग्रुप पर छापे मारे. रेड करने वाले अफसर देख कर हैरान हो गए, जब उन्हें 142 करोड़ रुपये कैश अपने हे दफ्तर की अलमारियों से बरामद हुआ . इस कंपनी अधिकांश उत्पादों विदेशी देशों जैसे यूएसए, यूरोप, दुबई और अन्य अफ्रीकी देशों में होता है . आयकर ने यह तलाशी अभियान करीब 6 और 50 राज्यों में राज्यों में चलाया था.

तलाशी उन ठिकानों पे हुई जहां खातों की किताबों और नकदी का दूसरा सेट मिला था. दस्तावेज, डिजिटल उपकरण, आदि पेन ड्राइव, के रूप में कई साक्ष्य मिले हैं, जिन्हें आयकर विभाग द्वारा जब्त कर लिया गया है. इन छापों के दौरान गैर-मौजूद और फर्जी कंपनी से की गई खरीद में गड़बड़ी का भी खुलासा हुआ.और भी बता दे की भूमि की खरीद के लिए भुगतान के साक्ष्य भी मिले है और कई अन्य कानूनी मुद्दों की भी पहचान की गई जैसे कि कंपनी की किताबों में व्यक्तिगत खर्च और संबंधित सरकारी पंजीकरण मूल्य से नीचे खरीदी गई भूमि. जानकारी मिली गई कि तलाशी के दौरान कई बैंक का पता लगा है, जिनमें से 16 लाकर संचालित हैं.

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड का कहना है की हैदराबाद स्थित एक प्रमुख फार्मास्युटिकल समूह पर 6 अक्टूबर को तलाशी अभियान चलाया गया था और अबतक लगभग 550 करोड़ रुपये की बेहिसाब आय के बारे में जानकारी प्राप्त हुई है . अघोषित आय का पता लगाने के लिए आगे की जांच की जारी है. उम्मीद है की ये राशि भी काम है, उम्मीद से कई ज़्यादा पैसा दबा के बैठे है।

Leave a comment

Your email address will not be published.