बेरोजगारों को हर महीने 3500 रुपये देगी मोदी सरकार,जाने पूरा सच

मित्रों इस बात में तो कोई दो राय नही है कि मौजूदा सरकार ने कई ऐसी लाभन्वित योजनाओं को लाकर जनता के चेहरे पर एक नई खुशी की लहर दौड़ा दी है, और अपने कार्यों के दम पर जनता की उम्‍मीदों पर खरा उतरने में कोई कसर नही छोड़ी है। इसके बावजूद कुछ ऐसे विरोधी हमारे बीच है, जो इनपर टांट कसते हुये कई ऐसी अफवाहों को जन्‍म देकर हम लोगों को भम्रित करने की कोशिश की जा रही है, उदाहरण के तौर पर कुछ वर्ष पहले नमक को लेकर काफी हड़कम्‍प मच गया था। वहीं अभी हाल ही में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं के अन्तर्गत लैपटॉप, नौकरी आदि देने की अफवाहे उड़ाई जा रही थी। कुछ ऐसी ही खबर एक बार फिर सुनने में आ रही है। आइए जाने आखिर क्या है इसकी सच्चाई।   

दरअसल BBC न्यूज के माध्यम से हमने आप लोगों को पहले भी सावधान किया कि किसी भी योजना के संबंध में अगर आपको ऐसा कोई व्हाट्सएप मैसेज आया है। जिसमें ये दावा किया जा रहा है कि, मोदी सरकार सभी बेरोजगारों को हर महीने 3500 रुपये दे रही है। तो सावधान हो जाइए, क्योंकि ये फर्जी खबर है, शायद इस खबर के जरिए कोई आपसे फ्राड करने की कोशिश कर सकता है, ये व्हाट्सएप मैसेज लगातार वायरल हो रहा है, जिसके बाद, PIBFactCheck की टीम ने ट्वीट कर इस दावे को फर्जी बताया है। आपको बता दें कि महामारी के दौरान, बेरोजगारों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हुई है, पर इसी बीच, इस वायरल मैसेज में ये दावा भी किया गया है कि, भारत सरकार ‘प्रधानमत्री बेरोजगार भत्ता योजना’ के तहत सभी बेरोजगारों को हर महीने 3500 रुपये दे रही है।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि इस फर्जी व्हाट्सएप मैसेज में लिखा गया है कि, प्रधानमंत्री बेरोजगार भत्ता योजना 2021 के लिए प्री- रजिस्ट्रेशन हो रहा है, इस योजना के अंतर्गत सभी युवा बेरोजगारी को 3500 रुपये हर महीने दिया जाएगा प्री रजिस्ट्रेशन करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर अपना फॉर्म भरे। जबकि, PIBFactCheck टीम ने भी ट्वीट कर इस दावे को फर्जी बताया है, पीआईबी ने लिखा कि, ‘प्रधानमंत्री बेरोजगार भत्ता योजना’ के तहत भारत सरकार सभी बेरोजगारों को हर महीने 3500 रुपये दे रही है, किया गया दावा और ये मैसेज फर्जी है, भारत सरकार की ओर से ऐसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है, किसी भी संदिग्ध लिंक पर क्लिक ना करें, यह धोखाधड़ी की कोशिश हो सकती है। जानकारी के लिये बताते चले कि सोशल मीडिया पर फैलाया जा रहा बेरोजगारी भत्ते का ये मैसेज पूरी तरह से फर्जी है। इस तरह शेयर किए जाने वाले मैसेज से लोगों को ठगने की कोशिशें की जाती है।

Leave a comment

Your email address will not be published.