जब हम किसी के साथ में वो कर लेते हैं ना…शहनाज गिल ने अपने लेटेस्ट Video इंटरव्यू में बताया सबसे करीबी इंसान का किस्सा

मित्रों जैसा की आप सभी अवगत ही होगें कि अभिनेता सिद्धार्थ शुक्ला के निधन के बाद शहनाज गिल काफी समय तक सोशल मीडिया के साथ-साथ कैमरों के सामने भी नहीं आई थीं। वहीं, अब वो अपने काम को लेकर कमिटमेंट की वजह से एक बार फिर से इंटरव्यूज में एक्टिव हुई हैं। क्योंकि सिद्धार्थ शुक्ला के निधन के बाद आया शहनाज गिल का लेटेस्ट इंटरव्यू। इस वक्त शहनाज़ गिल का एक ऐसा इंटरव्यू इंटरनेट पर वायरल हो रहा है जो काफी लंबे समय बाद बनाया गया है। बता दें कि शहनाज गिल के चाहने वालों को शहनाज गिल का लंबे समय से इंतजार था। उनके सबसे करीबी दोस्त सिद्धार्थ शुक्ला की मौत के बाद से शहनाज गिल का कोई अपडेट नहीं आया था। जब सिद्धार्थ शुक्ला इस दुनिया को छोड़ कर गए थे तो सबसे ज्यादा गम में शहनाज गिल ही थी।

आपको बता दें कि शहनाज गिल अब वह वापस आ गई है और सबका मनोरंजन करना फिर से चालू कर दिया है। इतना ही नहीं उन्होंने अपने इमोशनल अटैचमेंट के बारे में भी काफी बातें कही है। जब शहनाज़ गिल से पूछा गया की इस फिल्म में आपका किरदार कितना प्रतिशत तक है और आपकी जिंदगी फिल्म के लिहाज से कितना हूबहू मेल खाती है, तो उन्होंने बताया कि मेरी जिंदगी का 40% इस फिल्म का है। मैं प्यार को अच्छे से समझती हूं, जब हम किसी को प्यार करते हैं तो उसके साथ जो अटैचमेंट होती है उसका मैंने समझा है, वो माँ वाला प्यार होता है।

मैं उसको फील करती हूं। इतना ही नहीं उन्होंने अपनी माँ को लेकर एक बड़ा बयान दिया है जिसमें वह बताती हैं कि उनकी माँ का प्यार वह फील कर सकती हैं क्योंकि उनके पास एक माँ है और मुझे मेरी मां बहुत प्यारी लगती है। एक बार फिर से सिद्धार्थ शुक्ला और शहनाज गिल को चाहने वाले लोग दोनों को याद करते नजर आ रहे हैं फिलहाल के लिए sidnaz की जोड़ी अब ख़त्म हो चुकी है।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि शहनाज गिल के फिल्म हौसला रख दिलजीत दोसांझ के साथ रिलीज हो चुकी है। ऐसे में दोनों इस फिल्म के प्रमोशन में व्यस्त थे। फिल्म के डायरेक्टर और निदेशक इस चिंता में थे कि आखिरकार शहनाज गिल कब वापस आएंगे? लेकिन अब वह वापस आ गई है। इतना ही नहीं उन्होंने अपने इमोशनल अटैचमेंट के बारे में भी काफी बातें कही है। जब शहनाज़ गिल से पुछा गया की इस फिल्म में आपका किरदार कितना प्रतिशत तक है और आपकी जिंदगी फिल्म के लिहाज से कितना हूबहू मेल खाती है, तो उन्होंने बताया कि मेरी जिंदगी का 40% इस फिल्म का है।

मैं प्यार को अच्छे से समझती हूं, जब हम किसी को प्यार करते हैं तो उसके साथ जो अटैचमेंट होती है उसका मैंने समझा है, वो माँ वाला प्यार होता है। मैं उसको फील करती हूं। इस संबंध में आप लोगों की क्‍या प्रतिक्रियायें है? कमेंट बॉक्‍स में अवश्‍य लिखें। मित्रो अधिक रोचक बाते व लेटेस्‍ट न्‍यूज के लिये आप हमारे पेज से जुड़े और अपने दोस्तो को भी इस पेज से जुड़ने के लिये भी प्रेरित करें।

Leave a comment

Your email address will not be published.